भारतीय कप्तान विराट कोहली न्यूजीलैंड के खिलाफ 21 फरवरी से शुरू हो रही दो मैचों की टेस्ट सीरीज में पूर्व भारतीय कप्तान और मौजूदा बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली सहित कई दिग्गजों को पीछे छोड़ देंगे।

विराट कोहली अब तक 84 टेस्ट मैचों में 54.97 के औसत से 7207 रन बना चुके हैं और वह गांगुली को पीछे छोड़ देंगे। चूँकि गांगुली ने अपने करियर में 113 टेस्ट मैचों में 42.17 के औसत से 7212 रन बनाए हैं। गांगुली को पीछे छोड़ने के लिए विराट को सिर्फ 11 रन की दरकार है।

विराट कोहली के पास इस सीरीज में गांगुली ही नहीं अन्य कई दिग्गजों को पीछे छोड़ने का मौका रहेगा। वेस्टइंडीज के क्रिस गेल (7214) को पीछे छोड़ने के लिए विराट को सिर्फ 13 रन की जरुरत है।

ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ (7227) को पीछे छोड़ने के लिए 26 रन, ऑस्ट्रलिया के ही डेविड वॉर्नर (7244) को पीछे छोड़ने के लिए 43, इंग्लैंड के वाली हेमंड (7249) को पीछे छोड़ने के लिए 48 रन और दक्षिण अफ्रीका के गैरी कर्स्टन (7289) को पीछे छोड़ने के लिए 88 रन की जरूरत है।

अगर भारतीय टीम के अन्य खिलाड़ियों की बात करे तो उनके पास भी रिकॉर्ड बनाने का सुनहरा मौका है जैसे की मयंक अग्रवाल पूरे कर सकते हैं 1000 टेस्ट रन, मयंक अग्रवाल को मात्र 128 रन की जरुरत है। मयंक अब तक नौ टेस्ट मैचों में 67.07 के औसत से 872 रन बना चुके है।

Download fantasy app

रविचंद्रन अशिवन छोड़ सकते है कई दिगजो को पीछे

स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के पास भी कुछ दिग्गजों से आगे निकलने का मौका होगा। अश्विन ने अब तक 70 टेस्टों में कुल 362 विकेट लिए है, जबकि पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इमरान खान और पाकिस्तान के अभी के  प्रधानमंत्री ने 88 टेस्टों में 362 विकेट और न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान डेनियल विटोरी ने 113 टेस्टों में 362 विकेट चटकाए है। रविचंद्रन अश्विन बस 1 ही विकेट दूर है इन दिगजो को पीछे छोड़ने के लिए।

इशांत शर्मा टेस्ट में 300 विकेट पुरे कर सकते है

तेज गेंदबाज इशांत शर्मा के पास 300 विकेट पूरे करने का मौका है। इशांत ने गत फरवरी को बेंगलुरु में फिटनेस टेस्ट पास कर लिया था और उम्मीद है कि वह पहले टेस्ट में जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी के साथ भारतीय गेंदबाजी को और आक्रामक बनायेगे।

इशांत शर्मा अब तक 96 टेस्ट मैच खेल चुके है और इन 96 टेस्ट मैचों में 32.68 के औसत से 292 विकेट लिए है और 300 विकेट पूरे करने से वह बस 8 ही विकेट दूर है।

Pujara

पुजारा करेंगे 6000 रन पुरे

पुजारा भारतीय टेस्ट टीम एक बेहतरीन खिलाडी है इस सीरीज में अगर उनकी जबरदस्त फॉर्म रहती है तो वह 6000 रन पुरे कर सकते है पुजारा को ये रिकॉर्ड बनाने के लिए सिर्फ 260 रन की दरकार है।

इन सब मे रविंदर जडेजा भी पीछे नहीं है आल राउंडर रविंदर जडेजा 2 मैच खेलते ही अपने 50 टेस्ट पुरे कर लेंगे । इसके साथ ही वह अगर 156 रन भी बना लेते है तो अपने 2000 रन पुरे कर लेंगे